Ticker

6/recent/ticker-posts

अमित शाह का जीवन परिचय Amit shah biography in hindi

अमित शाह का जीवन परिचय


Amit shah biography in hindi
 Amit shah biography in hindi

अमित शाह का जन्म

अमित शाह का जन्म 22 अक्टूबर 1964 को मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ था उनके पिता का नाम अनिलचंद्र शाह हैं जो अमेरिका में अपना बिजनेस चलाते थे और इनकी माँ का नाम कुसुमबा था जिनका देहांत 8 जून 2010 में हो गया है। ये और इनका पूरा परिवार जैन धर्म के गुजराती व्यक्ति हैं


अमित शाह की शिक्षा

अमित शाह की स्कूली शिक्षा मेहसाणा से हुई और आगे की पढाई के लिए व 12 व़ी के बाद की पढ़ाई के लिए अहमदाबाद चले गयें। यहाँ से इन्होने बॉयोकेमिस्ट्री में बीएससी की डिग्री हासिल की. अपने कॉलेज के दिनों में ही अमित शाह ने आर. एस. एस. और अखिल भारतीय विदया परियद की सदस्यता ग्रहण कर ली. इनके पोलिटिकल कैरियर की शुरुआत गुजरात के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के मिलन से शुरु हुईं।


राज‍नीतिक यात्रा

अमित शाह 1986 के समय बीजेपी में शामिल हुए थे और 1987 में भारतीय जनता युवा मोर्चा के मेम्बर बने राजनीतिक जीवन में अमित शाह को पहली बड़ी जिम्मेदारी तब मिली जब उन्हें सन 1989 में लालकृष्ण आडवाणी के लिये गांधीनगर में चुनाव प्रचार का जिम्मा मिला शाह को दूसरा मौका तब मिला जब अटल बिहारी भाजपई ने 1996 में जुगरात से चुनाव लड़ना तय किया उसके बाद अमित शाह ने सरखेज विधानसभा सीट जीत कर अपना राजनैतिक करियर शुरु किया इसके दो साल बाद  वे अहमदाबाद के कॉपरेटिव बैंक के अध्यक्ष चुने गये उस समय बैंक डूबने के कगार पर थी बैंक को 36 करोड़ हानि भी हुई थी लेकिन बैंक को अगले साल ही  27 करोड़ का लाभ हुआ और 2014 में  बढ़कर 250  करोड़ हो गया इस काम के वजह से बैंक में 22 डायरेक्टरों में से 11 बीजेपी के बन गए।

सन् 2003 से 2010 तक उन्होंने गुजरात सरकार के केबिनेट में  गृह मंत्रालय की जिम्मेदारी लिए 2009 के समय वे गुजरात के असोसिएशन के अध्यक्ष बनाये गए।


इन्हे भी पढ़े→ नरेन्द्र मोदी के जीवन का रहस्‍य


2012 में नर्नपुरा विधानसभा सीट से विधायक चुने गए शाह को 2013 में उत्तर प्रदेश के प्रदेश प्रभारी बनाया गया तब उत्तर प्रदेश में बीजेपी की 10 सीटे ही थी लेकिन 2014 के आम चुनाव में बीजेपी के उत्तर प्रदेश में 70 सीटों पर जीत हुई थी। और उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सबसे बड़ी जीत हुई थी।

अमित शाह को लोक सभा चुनाव से पहले बीजेपी का राष्ट्र अध्यक्ष बनाया गया था पार्टी का अध्यक्ष बनने के बाद उन्होंने बीजेपी में सदस्यता अभियान शुरू किया और मार्च 2015 में 100 मिलियन सदस्यों के साथ बीजेपी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनी इसके बाद इनकी अध्यक्षता में पार्टी ने कई राज्य चुनाव जीते और साल 2016 में इनको एक बार फिर दुबारा से इस पद के लिए चुन लिया गया अमित शाह ने अभी तक 40 से भी ज्यादा चुनाव लड़े है जिनमे वे एक में भी हारे नहीं है।

शाह सरखेज सिट से चार बार MLA चुने जा चुके हैं 2002 से 2010 तक शाह गुजरात की केबिनेट का मुख्य चेहरा और  मोदी के परम मित्र थे. गुजरात दंगो से पहले हुए गुजरात विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 75 फीसदी सिट जीती थी।

इन्हे भी पढ़े→ योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय

मोदी और शाह पहली बार 1982 में कॉलेज के दिनों में मिले थे, शायद यह राजनीती में आने का न्योता ही था एक साल तक अपना बिजनेस करने के बाद 18 साल की उम्र में गुजरात की राजनीती में आ गयें |इन्होने वर्ष 1985 में विधिवत रूप से भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन कर ली


अमित शाह का निजी जीवन


Amit shah biography in hindi
Amit shah biography in hindi


अमित शाह की शादी गुजरात के सोनल शाह के साथ हुई थीं जिनकी शादी के बाद एक बेटा हुआ जिसका नाम जय शाह नाम रखा गया।

उनकी पुत्र वधू का नाम  हर्षिता शाह  है। अमित शाह जी अपनी माँ के बेहद करीब थे जिनकी मृत्यु उनकी गिरफ्तारी से एक माह पूर्व 8 जून 2010 को एक बीमारी से हो गयी। 


अमित शाह से जुड़े ​विवाद

फर्जी एनकाउंटर का आरोप साल 2005 में गुजरात में एक एनकाउंटर में आतंकवादी बाते हुए तीन लोगो को मार दिया गया था लोगो का कहना था एनकाउंटर के पीछे अमित शाह का हाथ था।


गुजरात में दंगो के साबुत साफ़ करने के आरोप साल 2002 में एक दंगो में अमित शाह एक विवाद में घिरे थे  इन पर आरोप लगाया गया था की  इस केस के गवाहों को उसका बयान बदलने पर मजबूर किया था 2010 में उन्हें हत्या और जबरन वसूली जैसे आरोपों के लिए गिरफ्तार किया गया और जिसकी वजह से उनके गुजरात के मुख्यमंत्री बनने की संभावना ख़तम हो गई  उनके गुजरात में प्रवेश पर भी रोक लगा दी गई लेकिन 2012 में उन्हें सर्वोच्च न्यायालय ने गुजरात में प्रवेश करने की अनुमति दे दी।

 


 इन्हे भी पढ़े


Post a Comment

0 Comments